uuuuuuu

नई दिल्ली (14 दिसंबर):  राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के विचारक एस. गुरुमूर्ति ने कहा है कि नोटबंदी के बाद 2,000 रुपये के नए नोटों को नकदी की समस्या से जूझ रहे लोगों को राहत देने के एक उपाय के तौर पर लाया गया है और बाद में इसे वापस ले लिया जाएगा। गुरुमूर्ति ने एक निजी न्यूज चैनल को दिए एक साक्षात्कार में कहा कि नोटबंदी के बाद 2,000 रुपये के नोट केवल मांग-आपूर्ति के बीच की खाई को पाटने के लिए जारी किए गए।

उन्होंने कहा कि बैंकों से कहा जाएगा कि 2,000 रुपये के नोटों को वह अपने पास रखें और उसके बदले में छोटे नोट प्रदान करें। आरएसएस समर्थित थिंक टैंक विवेकानंद इंटरनेशनल फाउंडेशन (वीआईएस) के महत्वपूर्ण सदस्य गुरुमूर्ति ने कहा, “निश्चित तौर पर बैंकों से कहा जाएगा कि एक बार जब 2,000 रुपये के नोट उनके पास आ जाएं, तो वह उसे ग्राहक को वापस नहीं करें। धीरे-धीरे बैंक 2,000 रुपये को नोटों को एकत्रित कर लेंगे और उन्हें छोटे नोटों से बदल देंगे।”

loading…



 

http://loksamachar.in/wp-content/uploads/2016/12/uuuuuuu.jpeghttp://loksamachar.in/wp-content/uploads/2016/12/uuuuuuu-150x150.jpegADMINspecialटॉप 10नई दिल्ली (14 दिसंबर):  राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के विचारक एस. गुरुमूर्ति ने कहा है कि नोटबंदी के बाद 2,000 रुपये के नए नोटों को नकदी की समस्या से जूझ रहे लोगों को राहत देने के एक उपाय के तौर पर लाया गया है और बाद में इसे वापस ले...HIDDEN STORIES
loading...